ALL ब्रेकिंग जयोतिष देश मनोरंजन समाचार राज्य
शासकीय प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने आगामी मेलों के संबंध में पत्रकारों को क्या बताया ?
July 2, 2020 • उत्तरांचल वाणी • समाचार

राज्य सरकारों के निर्देशन में यदि कोई गंगाजल लेने आता है कब उत्तराखंड सरकार उन राज्यों को मदद देगी

शासकीय प्रवक्ता मदन कौशिक ने सचिवालय मीडिया सेंटर में आगामी कांवड़ मेला , कुम्भ2021 और कोविड को लेकर सरकार की तैयारी के सम्बंध में मीडिया को जानकारी द। उन्होंने बताया कि आगामी कावड़ मेला को लेकर माननीय मुख्यमंत्री उत्तराखंड ने राजस्थान, पंजाब,हरियाणा ,दिल्ली इत्यादि राज्यो के मुख्यमंत्री से विचार विमर्श किया है। कावड़ यात्रा का मूल उत्तराखंड राज्य है । हमारे राज्य में कावड़ मेला में 3 से 4 करोड़ श्रद्धालु गंगा जल लेने हेतु पहुचते है। किंतु इस बार कोविड के दृष्टिकोण से, परम्परागत रूप में कांवड़ यात्रा की अनुमति नही दी जाएगी। उन्होंने यह भी बताया क

मेले मे राज्य सरकार के निर्देशन में कोई गंगाजल लेने आता है तो सरकार उसकी मदद करेगी

प्रमुख राज्यो के मुख्यमंत्री उन राज्यों को तब उत्तराखंड सरकार से वार्ता करके यह निर्णय लिया गया है कि विभिन्न राज्य सरकार के निर्देशन में यदि कोई गंगा जल ले जाना चाहता है तब उत्तराखंड राज्य सरकार उन राज्यो को मदद और सहयोग देगी। इसके अतिरिक्त परम्परागत आस्था के महत्व को बनाये रखने के लिये प्रतीकात्मक रूप में राज्य सरकार विभिन्न राज्यो के मुख्यमंत्री को भी इसका सन्देश इस रूप में भेजेगी कि कोविड के वावजूद कांवड़ मेले के आस्था को पर्याप्त महत्व प्रदान किया गया है। जिस प्रकार महाराष्ट्र ने गणेश चतुर्थी पर्व,हज पर्व और सिखों के पर्व को कोविड के दृस्टि से स्थगित रखा गया,इसके ही अनुरूप कावड़ मेले को परम्परागत रूप में आयोजन न करने का निर्णय लिया गया है।

कुंभ मेला के कार्य मेले के नॉटिफीकेशन से पूर्व करा लिए जाएंगे

शासकीय प्रवक्ता मदन कौशिक ने बताया कि आगामी कुम्भ मेला 2021 के संदर्भ में माननीय मुख्यमंत्री स्तर पर हुई बैठक में  कुम्भ 2021 के स्थायी प्रवृति के कार्य कुम्भ मेले के नोटिफिकेशन के पूर्व अर्थात प्रथम शाही स्नान के पूर्व पूर्ण कर लिया जाएगा। इसके लिये माननीय मुख्यमंत्री ने कुम्भ कार्यो में तेजी लाने का निर्देश दिया है। कुम्भ कार्य की तैयारी को लेकर अखाड़ा परिषद, गंगा सभा से सरकार निरन्तर विचार विमर्श करती रहती है। यह भी बताया गया कि आगामी जुलाई माह अखाड़ा परिषद के बैठक के सभी प्रस्ताव को राज्य सरकार स्वीकार करेगी।

अखाड़ों को जनहितार्थ सुविधाएं दी जाएंगी

कुम्भ 2021 के सन्दर्भ में यह निर्णय लिया गया है कि इलाहाबाद, नासिक ,उज्जैन की भांति देश भर से आने वाले सन्तो के जनसुविधाओं के विकास के धन का प्रबंध किया जाएगा। 13 अखाड़ो से सम्बंधित जनसुविधा, टॉयलेट, सड़क,पेयजलापूर्ति के लिये सरकार समुचित प्रबंध करेगी।

कोविड-19 - राज्य में स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में

 के सम्बंध में जानकारी देते हुए शासकीय प्रवक्ता मदन कौशिक ने बताया गया कि राज्य में स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है तथा राष्ट्रीय स्तर औसत की तुलना में उत्तराखंड राज्य की स्थिति डबलिंग रेट, रिकवरी रेट इत्यादि में बहुत अच्छी है। प्रेदेश के सभी जनपदों में टेस्टिंग की सुविधा प्रदान करने की अनुमति देने से टेस्टिंग रेट में वृद्धि होगी।