ALL ब्रेकिंग जयोतिष देश मनोरंजन समाचार राज्य
निर्भया के गुनहगारों का आज जारी हो सकता है नया डेथ वारंट
February 17, 2020 • Tarun Nayar

Nirbhaya Case Hearing निर्भया के दोषियों के लिए नया डेथ वारंट जारी करने की याचिका पर पटियाला हाउस कोर्ट में आज सुनवाई होगी. इससे पहले गुरुवार को हुई सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट के फैसले का हवाला देते हुए पटियाला कोर्ट ने सोमवार तक के लिए फैसला टाल दिया था, लेकिन मुमकिन है कि आज पटियाला कोर्ट सभी दोषियों के लिए नया डेथ वारंट जारी करेगा. क्योंकि, निर्भया के दोषियों को अलग-अलग फांसी देने और विनय की याचिका सुप्रीम कोर्ट से खारिज हो चुकी है. विनय शर्मा के वकील एपी सिंह ने विनय को मानसिक तौर पर असंतुलित बताया था, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने विनय की मेडिकल रिपोर्ट देखने के बाद इस बात को खारिज कर दिया. फिलहाल दोषियों के पास बचाव के सारे विकल्प खत्म हो गए हैं. सिर्फ पवन के पास विकल्प बचा है, लेकिन पवन ने अभी तक कोई याचिका नहीं लगाई है.

निर्भया को आज डेथ वारंट जारी होने की उम्मीद

पटियाला हाउस कोर्ट में सुनवाई से पहले निर्भया की मां ने कहा कि कई तारीखें (कोर्ट की सुनवाई की) आ चुकी हैं और अभी तक नया डेथ वारंट जारी नहीं किया गया है. हम हर सुनवाई में नई उम्मीद के साथ जाते हैं. उनके (दोषियों) वकील हर रोज नई रणनीति का इस्तेमाल करते हैं, मैं नहीं कह सकती कि आज क्या होगा, लेकिन मैं आशान्वित हूं.

20 फरवरी को केंद्र की याचिका पर सुनवाई

वहीं, इस मामले में दोषियों को फांसी पर अलग-अलग लटकाने की मांग वाली केंद्र सरकार की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट 20 फरवरी को सुनवाई करेगा. सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में साफ किया है कि इससे निचली अदालत की कार्रवाई बाध्य नहीं होगी. सुप्रीम कोर्ट ने पटियाला हाउस कोर्ट को कहा कि 17 फरवरी को होने वाली सुनवाई वो अपनी मेरिट के आधार पर करे. इसका मतलब है कि पटियाला हाउस कोर्ट अगर चाहे तो आज नया डेथ वारंट जारी कर सकती है.

फांसी पर सुप्रीम कोर्ट की नई गाइडलाइन

निर्भया के गुनहगारों की फांसी में हो रही देरी को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने नई गाइडलाइन जारी है. कोर्ट ने अपनी गाइडलाइन में कहा, 'अगर कोई हाई कोर्ट किसी को मौत की सजा देने की पुष्टि करता है और सुप्रीम कोर्ट इसकी अपील पर सुनवाई की सहमति जताता है तो 6 महीने के भीतर मामले को तीन जजों की पीठ में सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया जाएगा. फिर भले ही अपील तैयार हो या नहीं.'

सुनवाई के दौरान बेहोश हो गई थीं जस्टिस बनुमथी

निर्भया केस के चार दोषियों को अलग-अलग फांसी देने की केंद्र सरकार की याचिका पर फैसला सुनाते हुए सुप्रीम कोर्ट की जस्टिस आर. बनुमथी बेहोश हो गई थीं. जस्टिस बनुमथी के बेहोश होने पर कोर्ट परिसर में अफरातफरी मच गई. हालांकि, उनकी तबीयत पहले सही थी, लेकिन सुनवाई के दौरान वह अचानक बेहोश हो गईं.