ALL ब्रेकिंग जयोतिष देश मनोरंजन समाचार राज्य
हरिद्वार जनपद की बढ़ी - छोटी खबरें, यहां देखें
September 16, 2020 • उत्तरांचल वाणी • समाचार

पवित्र छड़ी यात्रा का मुख्यमंत्री करेंगे आज शुभारंभ

 श्री पंचदशनाम जूना अखाड़ा द्वारा उत्तराखण्ड के पावन तीर्थो एवं चार धाम की यात्रा हेतु निकाले जानी वाली पवित्र छड़ी यात्रा का शुभारम्भ गुरूवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत करेंगे। पवित्र छड़ी यात्रा हरिद्वार की अधिष्ठात्री मायादेवी मन्दिर परिसर से प्रारम्भ होकर प्रदेश के सभी पावन तीर्थो तथा चार धाम से होते हुए वापस हरिद्वार आयेगी।मुख्यमंत्री श्री रावत दोपहर बाद तीन बजकर पचास मिनट पर मायादेवी मन्दिर पहुचेंगे। मुख्यमंत्री पवित्र छड़ी का शुभारम्भ करेंगे। इस दौरान विभिन्न अखाड़ो के संत भी मौजूद रहेगे। इस सम्बन्ध में जूना अखाड़ा के अन्र्तराष्ट्रीय संरक्षक श्रीमहंत हरि गिरि ने बताया कि इस पवित्र छड़ीयात्रा का उददेश्य उत्तराखण्ड मे उपेक्षित हो रहे पौराणिक तीर्थो का जीणोद्वार तथा विकास करना है,ताकि जहां जनमानस में इनको पुनः स्थापित किया जा सके। वही स्थानीय नागरिकों को रोजगार भी उपलब्ध हो सके। उत्तराखण्ड की सबसे बड़ी समस्या पलायन को रोकने के लिए इस छड़ी यात्रा के माध्यम से शासन,प्रशासन तथा स्थानीय युवको को जोड़ा जायेगा।

महिला की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत ,पति पुलिस हिरासत में

 नगर कोतवाली क्षेत्र के काशीपुरा में एक महिला की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया है। उधर महिला के गले पर पुलिस को निशान मिले हैं। जिसके आधार पर पुलिस ने पति को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। पति के अनुसार महिला ने फंदे में लटककर आत्महत्या की है। पुलिस के मुताबिक घटना मंगलवार देर रात की है, जब काशीपुरा हरिद्वार निवासी व्यक्तिअपनी पत्नी सुनीता 24) को उपचार के लिए जिला अस्पताल लेकर पहुंचा। चिकित्सकों ने महिला को मृत घोषित कर दिया। गले पर निशान देखते ही अस्पताल की ओर से पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे मे लिया और पूछताछ शुरू कर दी। पति ने पुलिस को बताया कि उसकी पत्नी ने घर पर ही फांसी के फंदे में लटककर आत्महत्या का प्रयास किया था। जिस बचाकर वो अस्पताल लेकर पहुंचा था। लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार कर रही है। पति मजदूरी करता है और काशीपुरा में रेलवे ट्रैक के पास झोपड़ी डाल कर परिवार के साथ रहता हैं, जिसके तीन बच्चे भी है। कोतवाली प्रभारी अमरजीत सिंह ने बताया कि पति को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

श्रद्धालुओं के लिए राहत ,हरकी पौड़ी पर स्नान की अनुमति, नारायणी शिला सील

  पितृविर्सजनी अमावस्या के मौके पर श्रद्वालुओं को हरकी पौड़ी पर स्नान की अनुमति दे दी है। हलांकि पितृ अमावस्या पर श्रद्धालु सरकारी गाइड लाइन का पालन करते हुए हरकी पौड़ी पर गंगा स्नान कर सकेंगे। लेकिन दूसरी ओर पितृ अमावस्या के दिन नारायणी शिला पूरी तरह से सील रहेगी। आम श्रद्धालु गुरुवार को शिला में प्रवेश नहीं कर पाएंगे। बुधवार शाम को ही नारायणी शिला को सील कर दिया है। श्राद्ध का समापन गुरुवार को पितृ अमावस्या के साथ हो रहा है। अमावस्या के दिन पश्चिमी यूपी के कई जनपदों समेत आसपास के काफी संख्या में लोग स्नान और नारायणी शिला में कर्मकांड करने को पहुंचते थे। लेकिन इस साल कोरोना काल के कारण नारायणी शिला पर लगने वाले मेले पर रोक लगाई गई है। मंदिर के अलावा प्रशासन ने भी पांच दिन पहले इस पर निर्णय लिया था कि इस साल मेले पर रोक रहेगी। नारायणी शिला बंद होने के कारण यात्री अन्य गंगा घाटों पर कर्मकांड करा सकेंगे। हरकी पैड़ी, कुशावृत घाट समेत अन्य घाटों पर स्नान और कर्मकांड कराए जाएंगे। पुलिस ने प्रमुख सभी गंगा घाटों पर पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगा दी है। हालांकि ज्यादा भीड़ बढ़ने पर हरकी पैड़ी को खाली कराने की प्लानिंग भी पुलिस ने तैयार की है। बुधवार को प्रशासन की ओर से सिटी मजिस्ट्रेट जगदीश लाल और पुलिस की ओर से सीओ सिटी डॉ पूर्णिमा गर्ग ने श्रीगंगा सभा के अध्यक्ष प्रदीप झा, महामंत्री तन्मय वशिष्ठ समेत अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।

  रेलवे स्टेशन पर स्वच्छता पखवाड़े का शुभारंभ

रेलवे स्टेशन पर स्वच्छता पखवाड़े का  किया गया। स्वच्छता पखवाड़ा 16 सितंबर यानी बुधवार से 30 सितंबर तक चलेगा। इसके तहत रेल कर्मी, सफाई सहायकों और यात्रियों को जागरूक किया जाएगा। बुधवार को रेलवे स्टेशन पर स्वच्छता पखवाड़ा की शुरुआत की गई। स्टेशन अधीक्षक एमके सिंह ने सभी कर्मचारियों और सफाई सहायकों को स्वच्छता की शपथ दिलाई। मुख्य वाणिज्य निरीक्षक बीएस रावत, मुख्य स्वास्थ्य निरीक्षक जितेंद्र मीणा, विजेंद्र सिंह चैहान ने कार्यक्रम के तहत सामूहिक श्रमदान करते हुए पौधरोपण किया। इसके साथ ही सफाई सहायकों को मास्क-ग्लब्स वितरण का कार्य किया। उन्होंने कहा कि रेलवे स्टेशन की स्वच्छता के साथ ही अपने घर और आसपास के स्थान को भी साफ-सुथरा रखने के लिए सभी को जागरूक किया जा रहा है। 30 सितंबर तक इस अभियान के तहत रेल कर्मचारियों के साथ ही यात्रियों को भी जागरूक किया जाता रहेगा। इस दौरान मुख्य टिकट निरीक्षक ताराचंद शर्मा, बुकिंग पर्यवेक्षक अमर सिंह आदि शामिल रहे।